सदर अस्पताल में हंगामा लगाए संगीन आरोप


मधुबनी सदर अस्पताल में आजकल इलाज कम और हंगामा अधिक देखने को मिलता है कभी एम्बुलेंस के अभाव में गाडी के छत पर लाश ले जाते हुए तस्वीर मिलता है तो कभी डीजल के अभाव में एम्बुलेंस खड़ा हुआ मिलता है और आज तो डॉक्टर के अभाव में ही हंगामा खड़ा हो गया ! हंगामा करने वाले का आरोप था डॉक्टर उसके बेटे का इलाज नहीं करना चाहता है और निजी क्लिनिक से लेकर सदर अस्पताल में सिर्फ इन्तजार करवाता है ! और वह व्यक्ति जब डॉक्ट्रर राजिव रंजन का इन्तजार करते करते थक गया तो जमकर हंगामा करने लगा ! 

मधुबनी मीडिया की खबरों के लिए पेज Like करें.

हंगामा करने वाले व्यक्ति का कहना था की मेरा बेटा को सिपाही भर्ती के दौर में पैर में चोट आ गया और वह अपने बेटे को डॉक्टर राजिव रंजन से दिखाने के लिए सदर अस्पताल पहुंचा है ! लेकिन डॉक्टर सदर अस्पताल के वजाय अपने निजी क्लिनिक में अधिक रहते है और वह वहां भी गया था  लेकिन वहा तीन सौ रूपये फ़ीस जमा कराने के बाद बताया गया की डॉक्टर साहेब सदर अस्पताल में है जिसके बाद वह आदमी एक बार फिर भागता हुआ सदर अस्पताल पहुंचा लेकिन डॉक्टर साहब यहाँ भी नहीं थे बस फिर क्या था उस व्यक्ति के सब्र का बाँध टूट गया और उसने इमरजेंसी विभाग के गेट पर ही जमकर हंगामा करने लगा उसने अस्पताल कर्मी पर कई संगीन आरोप भी लगाए है ! उस व्यक्ति का आरोप था की यहाँ कभी भी डॉक्टर उपलब्ध रहता है ये लोग दवाई बेच देते है बगैरह बगैरह ! हालांकि डॉक्टर राजिव रंजन अस्पताल में मौजूद नहीं थे इसलिए उनका प्रतिक्रिया नहीं लिया जा सका है !

Comments

Popular posts from this blog

मजनू मुक्त समाज बनाने में जुटा है हरलाखी विधानसभा : सामाजिक

कबड्डी टूर्नामेन्ट का होगा आयोजन :खेल

लव सेक्स और धोखा, भाजपा विधायक के भाई पर आरोप