Latest

यहाँ पहुँचता है हिंदू मुस्लिम के तरह तरह का भुत


मधुबनी का यह भुत मेला है जी हां यह भूतों का ही मेला है !सायद आपने कबि इस तरह के मेले ना देखे होंगे और ना ही सुने होंगे पर रोंगटे खड़ा कर देने वाला यह भुत मेला मधुबनी जिला मुख्यलय से चालीस किलोमीटर की दुरी पर झंझारपुर अनुमंडल के ताजपुर अलपुरा गाँव के जहानिया मजार दरगाह पर मनाया जाता है! यह मेला साल में एक बार मनाया जाता है जो एक दिन के चलता है ! यहाँ हजारो लाखों लोग पहुंचते है जो सिर्फ भुत भगवाने के लिए आते है ! यहाँ भुत भी तरह तरह का आता है कोई रोने वाला भूत है तो कोई हँसने बाला भूत है तो कोई नाचने बाला भूत है तो कोई मौन भूत है ! और उन भूतों को यहाँ मौजूद मौलवी चुटकियों में भगा देते है ! भुत तो तरह तरह के है पर मौलवी एक है जो अपने मंत्रो से भुत को भगा के ही दम लेता है ! सारे भूतो को मौलवी चुटकी मे वश मे कर लेता है !यहां हर धर्म को मानने वाले लोग बड़ी ही आस्था के साथ आते है ! यहाँ देश के कई राज्यो झारखंड ,मुंबई ,कलकता ,चेन्नई के अलावे नेपाल  बंगालदेश आदि जगहो से लोग भी भूत भगवाने आते है! लोगो को एेसी मान्यता है कि नि:संतान लोग संतान की चाह को लेकर यहाँ पहुँचते है और मन्नत पूरा होने पर कबूतर मुगाँ खस्सी का कुर्वानी देता है ! यह सिलसिला कई सालो से चल रहा है ! भूत की बात और मौलवी के मन्त्र की हकीकत क्या है हमे पता नही पर यहाँ हजारो की भीड़ और आस्था कुछ और बयां करती है ! साथ ही यह मेला सर्वधर्म के मिसाल के तौर पर झंझारपुर में याद किया जाता है !

No comments