आखिर एक पिता ने अपने बेटे की ह्त्या का सुपारी क्यों दिया? कैसे पकड़ा गया सुपारी किलर? कौन था अगला टारगेट ?

न्यूज़ डेस्क पटना 
रोज रोज बेटे की मारपीट एवं माँ को दुष्कर्म करने की धमकी से तंग आकर एक पिता ने अपने ही बेटे की ह्त्या की सुपारी दे डाली ! हत्यारे को रुपया देने के लिए पिता ने अपना खेत, घर में रखा जेवर एवं भैंस तक बेच डाला ! इस ह्त्या की साजिस में एक पिता के साथ उसका मामा भी शामिल था ! पिता जोगेस्वर यादव ने अपने साला के साथ मिलकर इस ह्त्या का साजिस रचा था ! मामला कलुआही थाना क्षेत्र का है ! जहाँ एक लाख रुपया में एक पिता ने अपने सगे बेटे की ह्त्या का सुपारी दे दिया था जिसमे चालीस हजार रुपया बिचौलिया रमन यादव ने खा लिया ! सुपारी किलर ने बेटा बब्बन यादव पर गोली भी चलाया लेकिन किस्मत ने बब्बन का साथ दिया, उसे गोली तो लगी लेकिन वह बच गया ! इस हमले की तहकीकात में जुटी पुलिस ने जब बिचौलिया रमन यादव को गिरफ्तार किया तो पता चला सुपारी किलर इदरीस नट ने एक और ह्त्या का सुपारी लिया हुआ है और आज की रात उस व्यक्ति का ह्त्या करने वाला है ! दरअसल सुपारी किलर ने जिस व्यक्ति के ह्त्या का सुपारी लिया था उसका नाम चन्दन ठाकुर है वह पूर्व में बासोपट्टी प्रखंड प्रमुख रह चुका है वर्तमान में उसकी माँ प्रखंड प्रमुख है ! पुलिस अधीक्षक दीपक वरनवाल ने बताया की चन्दन की दबंगई से परेशान होकर उसका पड़ोसी श्यामसुंदर ठाकुर चन्दन ठाकुर की ह्त्या करवाना चाहता था ! लेकिन वक्त रहते सुपारी किलर इदरीस नट को गिरफ्तार कर लिया गया है ! उन्होंने बताया की दरअसल मामला का उद्भभेदन उस वक्त हुआ जब कलुआही थाना क्षेत्र में एक व्यक्ति बब्बन यादव पर गोली चालाई गयी ! तहकीकात के क्रम में पता चला की इस गोलीकांड का मुख्य साजिशकर्ता बब्बन यादव का पिता जोगेस्वर यादव है ! उसने अपने बेटे का ह्त्या करवाने के लिए अपने घर का गहना और भैंस तक बेच दिया खेत को गिरवी रख दिया ! बिचौलिया की गिरफ्तारी से पुरे मामले का उद्भभेदन हो गया है ! लेकिन सवाल बड़ा है आखिर एक पिता कैसे अपने बेटे की ह्त्या की सुपारी दे सकता है ? इस सवाल के जवाव में एसपी दीपक वरनवाल ने बताया की दरअसल बब्बन यादव बदमाश किस्म का आदमी है ! वह तीन भाइयो में सबसे छोटा है ! वह अक्सर अपने भाईयो को पीटता था भाभी के साथ दुष्कर्म करता था साथ ही माँ पिता को भी पीटता था ! आये दिन उत्त्पीडन से परेशान दोनों भाई एवं भाभी पहले ही घर छोड़कर दूसरे प्रदेश में जा चुके है ! भाइयो के जाने के बाद भी उसका उत्तपीड़न कम नहीं हुआ वह अक्सर अपने माँ पिता को मारता पीटता था ! और फिर एक दिन उसने अपने पिता के सामने माँ को दुष्कर्म करने की धमकी दिया जिसके बाद पति का सोया हुआ अभिमान जाग खड़ा हुआ और भाड़े के गुंडे को बुलाकर बेटा बब्बन यादव की ह्त्या का सुपारी दे डाला !

Comments

Popular posts from this blog

कबड्डी टूर्नामेन्ट का होगा आयोजन :खेल

लव सेक्स और धोखा, भाजपा विधायक के भाई पर आरोप

मजनू मुक्त समाज बनाने में जुटा है हरलाखी विधानसभा : सामाजिक