Latest

दंत मंज़न बेचवाने के लिये घर से किया था हायर और मंगवाते थे भीख, लोगों ने गैंग लीडर को पुलिस के किया हवाले


न्यूज डेस्क पटना 
नीरज कुमार सिंह,पिंटू 
मधेपुर- भारत मे पहले भिक्षाटन महापुरुष किया करते थे वे माँँग कर खाते थे और ज्ञान अर्जित करते थे मकसद सिर्फ ज्ञान अर्जित करना था इसलिए भीख को उच्य श्रेणी मे रखा गया था .लेकिन अब भिक्षा व्यवसाय बन चुका है और एक सर्वे के अनुसार 1991 के बाद भिखारियों का बेतहाशा वृध्दि हुआ है. माफिया द्वारा भीख मंगवाने का कारोबार चलता है. कूछ इसी तरह का एक गैंग मधुबनी पुलिस के हथ्थे चढ़ गया है . ये गैंग दो दिव्यांग को जबरन 21 दिनों से भीख मंगवाते थे .मामले का खुलासा तब हुआ जब पीड़ित ने भीख मांगने के क्रम में शुक्रवार को स्थानीय पुरानी बस स्टैण्ड मे लोगों को आपबीती सुनाया । दिव्यांग की पीड़ा सुनकर लोग एकत्रित हो गए और इसकी सूचना पुलिस को दी गयी । पीडित का पहचान दरभंगा जिले के बिरौल थाना क्षेत्र के नौडेगा बलहा गांव निवासी सबीर अंसारी के 22 वर्षीय दिव्यांग पुत्र सदरे आलम एवं भागलपुर जिले के मनियांमड़ थाना क्षेत्र के श्रीपुर अमघटा गांव निवासी फूलो सिंह के 19 वर्षीय दिव्यांग पुत्र राज कुमार सिंह उर्फ पिन्टू के रुप मे हुआ है .इनलोगों को दंतमंजन बेचने के लिए सात हजार रुपये मासिक देने का प्रलोभन देकर लाया गया था लेकिन दिव्याँगो से दन्तमंजन बेचने के वजाय भीख मंगवाया जाने लगा था । गिरफ्तार शक्स का पहचान पूर्णिया जिले के जलालगढ़ थाना क्षेत्र के मिश्री नगर गांव निवासी शमशूल के तीस वर्षीय पुत्र असगर एवं मधेपुरा जिले के सदर थाना क्षेत्र के उत्तर पश्चिम भेलबा गांव निवासी शमीम के 21 वर्षीय पुत्र अब्दुल कलाम के रुप मे हुआ है . पीड़ित दिव्यांगों ने बताया कि असगर एवं अब्दुल कलाम दिनभर भीख मांगने के लिए प्रताड़ित किया करता था। मना करने पर मारपीट भी किया करता था। वे शाम ढ़लते ही दोनों दिव्यांगों से जबरन रुपये छीन लिया करता था । थानाध्यक्ष अमित कुमार ने बताया कि स्थानीय लोगों द्वारा पकड़कर सौंपे गए दो दिव्यांग सहित उनके दो सरगानाओं से गहन पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने इनलोगों के पास से ग्यारह हजार पांच सौ रुपये, दो मोबाइल, एक टेम्पो, एक ह्वील चेयर, ध्वनि विस्तारक यंत्र, गाने बजाने का सयंत्र सहित अन्य सामान बरामद किया है। थानाध्यक्ष ने बताया कि इस गैंग के जड़ तक पहुंचने का प्रयास किया जा रहा है।

No comments