चंद कदमो की दुरी पर फायर ब्रिगेड की गाड़ी खड़ी थी लेकिन दिव्यांग का मौत जलकर हो गया

नीरज कुमार सिंह ,पिंटू  
यह तस्वीर आपको अंदर से झकझोर देगी क्योकि यह तस्वीर अपने आप में सवाल है ! सवाल है इस सरकारी सिस्टम से जिसके उपस्थिति होने के बाद भी आम लोगों का जीवन सुरक्षित नहीं है ? कभी एस०डी०आर०एफ की टीम के मौजूदगी में बच्चे का डूबकर मौत हो जाता है और एस०डी०आर०एफ का बोट, पेट्रोल नहीं होने का रोना रो कर रह जाता है ! और आज एक बार फिर सरकारी सिस्टम दगा दे गया, अग्निशामन का गाडी खड़ी रह गयी और आदमी ज़िंदा जलकर मर गया ! मामला झंझारपुर अनुमंडल कार्यालय के ठीक पीछे और अनुमंडलीय अस्पताल के समीप की है, जहा ही एक चाय की दुकान में अचानक आग लग गयी और दुकान में सोए एक दिव्यांग गुदर कामत का जल कर मौत हो गया ! आश्चर्य इस बात की है कि घटना स्थल से महज बीस से पच्चीस फिट की दूरी पर ही फायर ब्रिगेड स्टेशन है जहां फायर ब्रिगेड की गाड़िया खड़ी थी लेकिन वह गाडी दूकान को जलने से रोक नहीं पायी और दिव्यांग का जलकर मौत हो गया ! अस्सी वर्षीय यह दिव्यांग चलने फिरने से असमर्थ था ! हादसे की वजह मवेशी के लिए जलाया गया अलाव बताया जा रहा है ! स्थानीय लोगो ने बताया की घूर के आग से झोपडी में जलने लगी जिसके बाद दूकान में रखा गैस सिलेंडर फट गया जिससे आग भयावह हो गया ! इस हादसे में दुकान में बंधी 8 बकरियो का भी जलकर मौत हो गया है ! फायर ब्रिगेड कर्मी का कहिं कोई पता नहीं था जबकि फायर ब्रिगेड स्टेशन में गाड़ी खड़ी थी !

Comments

Popular posts from this blog

मजनू मुक्त समाज बनाने में जुटा है हरलाखी विधानसभा : सामाजिक

कबड्डी टूर्नामेन्ट का होगा आयोजन :खेल

लव सेक्स और धोखा, भाजपा विधायक के भाई पर आरोप