Latest

विजिलेंस के आहीस्त्ता कदम से नगर परिषद मे हलचल

विष्णु प्रसाद 
ये जांच है की ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है ! हम बात कर रहे है नगर परिषद के घोटालों की जांच का ! घोटाला 2010-2011 में हुआ और जांच अभी तक हो रहा है ! दरअसल मामला उस वक्त सुर्खियों में आया जब तत्कालीन एमएलसी विनोद कुमार सिंह ने निगरानी विभाग को नगर परिषद् के घोटाले के जांच का लिखित आबेदन दिया ! आबेदन दिए कई वर्ष गुजर गए पर मामले का अब जांच सुरु हुआ ,सुरु क्या हुआ मामला ने पहला कदम बढ़ाया है ! और कदम भी इतना धीमा की उन कदमों से तनिक भी आहट नहीं है ! दरअसल 27 नवम्बर को विजिलेंस की टीम मधुबनी पहुंची जाँच किया और जाँच टीम आने की एवं उनके जांच की खबर एक व्यक्ति को अलावे किसी को भी नहीं मिला ! मीडिया को तो उस एकलौते सक्श ने जानकारी दिया जिसने अपने पुराने जमाने के मोबाइल से एक तस्वीर भी खींच लिया था और आज हिम्मत करके उस तस्वीर को भी शेयर कर दिया ! विजिलेंस टीम के एकलौते साक्ष्य madhubanimedia.com  के हाथ लगी तो हम मामले की तह तक पहुँचे ! 

मधुबनी मीडिया की खबरों के लिए पेज Like करें.

क्या था मामला ?
01)  संतोष मंडल के घर से ढोढ़वा पोखर तक सड़क निर्माण कार्य जिसका प्राक्कलित राशि है एक 144000 मनोज कुमार साह इस सड़क का संबेदक है !
02)ज्ञानचंद बाबू के घर से रामलख महतो के घर तक पीसीसी सड़क का निर्माण प्राक्कलित राशि है 1333500 यह सड़क वार्ड नंबर ग्यारह में है और संबेदक है रामकुमार महासेठ है !
03)प्रो० इजहार अहमद के घर से मोमिन हॉल तक सड़क निर्माण कार्य प्राक्कलित राशि है 1374900 है दीपक कुमार पूर्वे इसके संबेदक बताये जा रहे है यह वार्ड नंबर 21 में पड़ता है !
04)आई सी मिश्रा के घर से मुख्य सड़क तक सड़क निर्माण प्राक्कलित राशि है 777100 है ! यह वार्ड नंबर 19 में पड़ता है संबेदक है गौरी शंकर प्रसाद ! 
दरअसल इस सभी सड़क मे अनियमितता की जाँच एवं भ्रष्टाचार होने का बात का एक लिखित आवेदन तत्कालीन एमo एलo सीo विनोद कुमार सिंह ने आयोग को दिया था जिस मामले का जाँच अब शुरू हुआ है ! देर से शुरू हुआ जाँच का रिजल्ट देखने योग्य होगा क्योंकि सुनने मे आ रहा है एक्सक्युटिव महोदय का रिटायरमेंट भी नजदीक ही है ! अब देखना है निपटारा उनके सामने करते है या जाने के बाद ! हालाँकि खबर का आधिकारिक पुष्टि नहीँ हुआ है !

No comments