Latest

तिलयुगा नदी में जलस्तर बढ़ने से कई पंचायत बाढ़ की चपेट में


मधुबनी जिले के अंधरामठ थाना क्षेत्र के तिलयुगा मे जलस्तर में काफी वृद्धि होने के कारण कई पंचायत बाढ़ को चपेट मे है. क्षेत्र के बांध के टूटने के कारण जिले से सम्पर्क टूट गया है. नेपाली जल ग्रहण क्षेत्र में भारी वर्षा के कारण नेपाल से बह रही बलान नदी में अचानक जलस्तर में वृद्धि से सीमावर्ती गांव बटनबाड़ी, धर्मपुर, बलुवाहा, नवटोली, और कई इलाकों में  बाढ़ का पानी घुसने से उस इलाके में जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है. सुचना मिलते ही खुटौना प्रखंड विकास पदाधिकारी अनिल कुमार अपने पुरे टीम के साथ पहुंच कर जायजा ले रहे हैं.
शुक्रवार दोपहर वीरपुर कोसी बराज से वर्ष का सर्वाधिक 2 लाख 68 हजार 500 क्यूसेक पानी छोड़ा गया. नेपाल की तराई भाग सहित जलग्रहण क्षेत्रों में जारी मूसलाधार बारिश के कारण कोशी नदी में बाढ़ की स्थिति विकराल हो गई है. जो आगे और अधिक बढ़ने की संभावना व्यक्त की गई है. पिछले तीन दिनों से कोसी का जलप्रवाह 2 लाख  क्यूसेक से ऊपर ही था शुक्रवार सुबह से ही उचे क्षेत्रों में भी बाढ़ का पानी घुसने लगा है.

मधुबनी मीडिया की खबरों के लिए पेज Like करें.


प्रखंड के  गढ़गावँ, भवानीपुर, मेनाही, परियाही, लुचबनी, असुरगढ़, बगेवा, रामपुर, गोबरगढ़, बसिपट्टी, दुवालख, महपतिया, जानकीनगर, लीलजा, परसौनी, टेंगराहा, भरगामा, बकुआ, सहित लगभग ढाई दर्जन गांवों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है. निचले भू भाग में बसे लोगों के घर आंगन में पानी प्रवेश कर गया है. जबकि अधिकांश लोगों का घर आंगन अभी सुरक्षित बताया गया है. 

No comments