पीएवाई के लाभ से अंधराठाढ़ी के दो पंचायत रह सकता है वंचित


बिन्देश्वर चौधरी : अंधराठाढ़ी वर्ष 2016-17 में अंधराठाढ़ी प्रखंड को 1426 प्रधानमंत्री आवास योजना का लक्ष्य मिला है. इस योजना के तहत लाभूक को घर के साथ साथ धुआ रहित रसोई घर और शौचालय भी बनाना है. कार्यालय सूत्रों के मुताविक तीन किस्तों में 1.20 लाख रूपये के अलावे शौचालय और मजदूरी की राशि अलग से देने का प्रावधान है. उन्होंने बताया कि तकनीकी कारणों से फ़िलहाल अंधराठाढ़ी उत्तर और दक्षिण पंचायत को प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभ से वंचित रह जाने की सम्भावना है. इसका कारण भारत सरकार से उपलव्ध करायी गयी सूची में दोनों पंचायत की लाभुको नाम संयुक्त है.

बताते चले की इस प्रखंड को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 17000 लाभुको की प्रतीक्षा सूची उपलब्ध करायी गयी थी. उक्त सूची को ग्राम पंचायत से त्रुटि निवारण किया गया. त्रुटि निवारण में आधे से अधिक लाभूक सूची से बाहर कर दिए गये. इधर इंदिरा आवास योजना की उपलब्धियां भी अस्पष्ट है. इस प्रखंड का वर्ष 2009-10 तक का डाटा अब तक अपडेट नही किया गया है. वर्ष 2010-11 से लेकर 15-16 तक 8400 इदिरा  आवास स्वीकृत हुयी थी. इनमें से तकरीबन 2490 लाभूकों को अब तक द्वितीय क़िस्त की राशि बकाया है. इसका कारण लाभूकों द्वारा प्रथम क़िस्त की राशि लेकर निर्माण कार्य शुरू नही करना है या विभागीय लापरवाही होना दर्शाता है. विगत चार वर्षो से इदिरा आवास सहायक, पर्यवेक्षक, लेखापाल, डाटा इंट्री ओपरेटर अलग से बहाल हैं. वावजूद इसके इदिरा आवास की भौतिक स्थिति का अस्पष्ट रहना आश्चर्य है.

मधुबनी मीडिया की खबरों के लिए पेज Like करें.


इस बाबत अधिकारी अनुमंडल पदाधिकारी झंझारपुर विमल कुमार मंडल ने पूछने पर बताया की इदिरा आवास योजना एवं प्रधानमंत्री आवास योजना के क्रियान्वयन के प्रति सरकार गंभीर है. किसी भी स्तर पर गड़बड़ी बरदास्त नही की जाएगी. 

Comments

Popular posts from this blog

कबड्डी टूर्नामेन्ट का होगा आयोजन :खेल

मजनू मुक्त समाज बनाने में जुटा है हरलाखी विधानसभा : सामाजिक

लव सेक्स और धोखा, भाजपा विधायक के भाई पर आरोप