Latest

दहेज़ में अपाचे बाइक नहीं देने पर विवाहिता की हत्या


प्रवीण कुमार ठाकुर : दहेज़ प्रथा को खत्म करने को लेकर भले ही लाख प्रयास और दावें किये जायें लेकिन आज के आधुनिकता के इस युग में भोग विलास के पीछे भाग रहे इस समाज को बदलने की सोचना भी खुद से बेईमानी लगता है. जिसका कारण यह है की आज के समय में भी रोज ना जाने कितनी बेटियां दहेज़ के खातिर मौत के घात उतार दी जाती हैं. 21वीं सदी में जी रहा इस समाज में जागरूक और सभ्य समाज का दर्जा दिया जाता है. लेकिन इन परिस्थितियों में भी जब बेटियों की बलि दहेज़ के नाम दी जा रही है, ऐसे में इस समाज से बेहतर की अपेक्षा करने से बेहतर है मूक हो जायें. 

कुछ इसी तरह मधुबनी के बासोपट्टी थाना क्षेत्र में दहेज़ के लालच में महिला को जलाकर मार देने का मामला सामने आया है. बासोपट्टी थाना क्षेत्र के छतौनी गांव में रहीमा खातुन (22 ) को उसके ससुराल वालों ने सिर्फ इसलिए जिंदा जलाकर मार डाला क्योंकि लड़की के माँ-बाप उसके ससुराल वालो की मांग अपाचे मोटरसाइकिल व घर बनाने के लिए पैसे नहीं दे सकें. घटना सोमवार सुबह आठ बजे की है. मृतिका रहीमा खातून की शादी डेढ़ वर्ष पहले हुई थी. मृतका के पिता के द्वारा पुलिस को दिए गए आवेदन में आरोप लगाया गया है की रहीमा खातून को उसके ससुर मो. हाशिम, सास सगीरा खातून, गोतनी बसिरा खातून, दामाद व उसके जेठ ने मिलकर मिट्टी का तेल छिड़क कर जिंदा जला दिया, जिसके कारण उसकी मौत हो गई. साथ ही मृतका के पिता ने ससुराल वालों पर शादी के बाद से ही दहेज़ के लिए प्रताड़ित करने की बात कही है. लड़की के पिता ने बताया की शादी के कुछ दिन बाद तक सब कुछ ठीक ठाक था लेकिन अचानक ससुराल वालों ने लड़की को प्रताड़ित करना शुरू कर दिया. जिसमें कई बार मामला आगे बढ़ने पर स्थानीय स्तर पर समझौता भी हुआ. कुछ दिन पहले ससुराल वालों ने अपाचे मोटरसाइकिल व घर बनाने के लिए रूपये की मांग की थी. जो की वह देने में असमर्थ थे, जिसके कारण ससुराल वालों ने साजिश के तहत सोमवार को रहिमा को ज़िंदा जलाकर मार डाला.


मधुबनी मीडिया की खबरों के लिए पेज Like करें.

घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पंहुचे बासोपट्टी थानाध्यक्ष ने बताया की शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मधुबनी भेज दिया गया है.साथ ही लड़की के पिता के बयान के आधार पर 5 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर आरोपी के गिरफ़्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.

No comments