शिवलिंग कब्जे में लेने गई पुलिस पर ग्रामीणों ने किया हमला, कई गाड़ियां जलकर राख


बीती रात जिले में शिवलिंग को लेकर उपजे विवाद ने भयानक रूप ले लिया है. जिले के बाबूबरही प्रखंड के बेला में सरकारी जमीन पर ग्रामीणों की खुदाई पर निकला शिवलिंग दो गांवों के बीच विवाद का कारण बन गया है. विवाद इतना बढ़ चुका है कि एसडीएम ने पहले से मूर्ति स्थल पर निषेधाज्ञा लागू कर रखी थी. 

मूर्ति को लेकर प्रखंड क्षेत्र के नबका टोल खोजपुर व कुकरूपट्टी गांव में विवाद सुलझता हुआ नही दिखाई दे रहा था. जिसके बाद बीती रात पुलिस ने बाबूबरही थानाध्यक्ष पंकज आंनद के नेतृत्व में दर्जनों पुलिस बल के साथ विवादित शिवलिंग को कब्जे में लेने के लिए खोजपुर गांव पंहुची.

लेकिन देखते ही देखते गांव में पुलिसिया चहलकदमी की खबर आग की तरह फैल गई. वहीं शिवालय के कुछ दूरी पर ही एक शादी समारोह चल रहा था. जिसके कारण शादी में भाग ले रहे ग्रामीणों व बारातियों ने पुलिस पर हमला कर दिया. कुछ ही देर में नींद में सो रहे लोग भी जाग गए व बारातियों के साथ पुलिस बलबपर पथराव शुरू कर दिया.

मधुबनी मीडिया की खबरों के लिए पेज Like करें.

देखते ही देखते ग्रामीणों के आक्रोश ने रौद्र रूप ले लिया. वहीं भीड़ ने पुलिस कर्मियों को खदेड़ना शुरू कर दिया. मौके पर मौजूद जेसीबी सहित दो पुलिस गाड़ियों व कई मोटरसाईकल को आग के हवाले कर दिया. जिसमें 5 पुलिस कर्मी घायल हो गए, साथ ही एक ग्रामीण की भी मौत हो गई. घायल पुलिसकर्मियों को डीएमसीएच रेफर कर दिया गया है. फिलहाल स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है.

वीडियो देखें : https://goo.gl/XTsMA3

Comments

Popular posts from this blog

मजनू मुक्त समाज बनाने में जुटा है हरलाखी विधानसभा : सामाजिक

कबड्डी टूर्नामेन्ट का होगा आयोजन :खेल

लव सेक्स और धोखा, भाजपा विधायक के भाई पर आरोप