खबर का असर : मधेपुर में सील हुआ अवैध रूप से संचालित दो नर्सिंग होम

न्यूज़ डेस्क पटना 
नीरज कुमार सिंह, पिंटू 
आखिरकार मधुबनी मीडिया के खबर का एक बार फिर असर देखने को मिला है ! दरअसल हमने खबर लिखा था मधुबनी जिले के मधेपुर में डॉक्टर नहीं भगवान भरोसे चलता है स्वास्थ्य व्यवस्था सरकारी अस्पताल तो रो रहा है निजी अस्पताल में भी फर्जी डॉक्टर या कम्पाउंडर करते है ऑपरेशन और इस खेल में प्रखंड स्तरीय अधिकारियों की संलिप्तता की बाते सामने आयी थी ! मामले की गंभीरता को समझते हुए वरिये पदाधिकारियों ने फर्जी सर्टीफिकेटधारी डॉक्टर बी० एस० झा के दो क्लिनिक को शील कर दिया है ! देर शाम स्थानीय बीडीओ तेज प्रताप त्यागी एवं थानाध्यक्ष अमित कुमार ने एसडीओ विमल कुमार मंडल सहित अन्य वरीय अधिकारियों के आदेश को मानते हुए दो जगहों पर स्थित श्यामा क्लिनिक को शाम सील कर दिया गया है । थानाध्यक्ष ने बताया कि सील करने के बाद चौकीदार की प्रतिनियुक्ति कर दी गई है ताकि क्लिनिक को दुबारा नहीं खोला जा सके । उल्लेखनीय है कि श्यामा क्लिनिक( नर्सिंग होम )के संचालक बी. एस. झा बीएएमएस की फर्जी डिग्री के सहारे पिछले कई वर्षों से नर्सिंग होम चला रहे थे। इस बीच जब बिहार राज्य आयुर्वेदिक यूनान संस्थान पटना द्धारा जांच में बीएस झा का डिग्री फर्जी बताया गया तो सिविल सर्जन ने मधेपुर पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को बीएस झा के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करवाने का आदेश दिया । हालांकि सिविल सर्जन को यह एफआईआर दर्ज करवाने के लिए दो बार रिमाइंडर भेजना पड़ा जिसके बाद बीएस झा के विरुद्ध मधेपुर में कांड संख्या 64/18 दर्ज की गयी ! हालांकि एफआईआर के बाबजूद क्लिनिक का संचालन बदस्तूर जारी था जिसके बाद हमने खबर लिखा और देर शाम खबर का असर देखने को मिला ! प्रशासनिक कारवाई से प्रखंड क्षेत्र में अवैध रुप से चल रहे अन्य नर्सिंग होम के संचालकों में हड़कंप मची हुई है। देखना है प्रशासन कितने अबैध क्लिनिक को बंद करवाने में कामयाब होती है !

Comments

Popular posts from this blog

कबड्डी टूर्नामेन्ट का होगा आयोजन :खेल

मजनू मुक्त समाज बनाने में जुटा है हरलाखी विधानसभा : सामाजिक

लव सेक्स और धोखा, भाजपा विधायक के भाई पर आरोप