सरकारी कर्मी का दर्जा दिये जाने की मांग को लेकर आंगनबाड़ी सेविका सहायिका ने किया प्रदर्शन


नीरज कुमार सिंह,पिंटू 
मधेपुर-सरकारी कर्मी का दर्जा दिये जाने सहित 15 सूत्री मांगो को लेकर आंगनबा़ड़ी सेविका एवं सहायिकाओं ने बिहार राज्य आंगनबाड़ी संयूक्त संर्घष समिति के तत्वाधान में सोमवार को बाल विकास परियोजना कार्यालय मधेपुर का घेराव कर जोरदार प्रर्दशन किया। प्रर्दशनकारी अपने मांगों के सर्मथन में सरकार के विरूद्व नारेबाजी कर रहे थे। प्रर्दशन स्थल पर ही प्रर्दशनकारियों की सभा हुई। सभा में वक्ताओं ने मजबुती के साथ अपने मांगों पर विचार रखा। तथा कहा कि देश से कुपोषण दुर करने के अभियान में शामिल आंगनबाड़ी सेविका एवं सहायिका 3 हजार एवं 15 सौ वेतन पाकर स्वंय कुपोषण का शिकार बनी है। प्रर्दशनकारियों की मांगों में आंगनबाड़ी सेविका एवं सहायिकाओं को सरकारी कर्मी का दर्जा दिये जाने, सेविका का मासिक वेतन 18 हजार तथा सहायिका का मासिक वेतन 12 हजार करने, 54 दिन हड़ताल के उपरांत 16 मई 2017 के समझौते का जल्द निष्पादन करने, गोवा एवं तेलांगना की तर्ज पर सेविका को 7 हजार एवं सहसयिका को 4500 सौ अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि दिये जाने,सेवानवित के प्श्चात 5 हजार मासिक पेंशन या एक मुश्त 5 लाख सहायता राशि व बीमा का लाभ देने, सेविका सियिका का चयन मार्गदर्शिका एवं दंड निरूपण की प्रकिया को कानून सम्मत बनाये जाने,चा घंटे से अधिक काम के लिए मजबुर न किये जाने या आठ घंटे काम का समय सीमा निर्धारित किये जाने हड़तान अवधिका मानदेय न काटकर अवकाश एवं कार्य में समायोजन किये जाने,मंहगाई के आलोक में मकान किराया भता की राशि समुचित वृद्वि कर भुगतान की प्रक्रिया सरल करते हुए नियमित भुगतान करने आदि की मांग शामिल है। वक्ताओं ने कहा कि मांगों के सर्मथन में यह आंन्दोलन चरणबद्व तरीके से जारी रहेगा। घेराव प्रर्दशन मे संघ के प्रखंड अध्यक्ष सबीला खातून, महासचिव रंजू कुमारी, शेरबानी कुमारी,पूनम देवी,बबिता देवी, मुन्नी कुमारी, सबीला प्रवीण, सुचिता कुमारी, रेखा कुमारी, बीणा देवी, रेणु देवी, मिथिलश देवी, सहित दर्जनों आंगनबाड़ी सेविका एवं सहायिका शामिल थी।

Comments

Popular posts from this blog

मजनू मुक्त समाज बनाने में जुटा है हरलाखी विधानसभा : सामाजिक

कबड्डी टूर्नामेन्ट का होगा आयोजन :खेल

लव सेक्स और धोखा, भाजपा विधायक के भाई पर आरोप