Latest

भांजा ही निकला अपहरणकर्ता पच्चीस लाख का किया था डिमांड दस लाख तक मिलने पर करता समझौता


भगवान कृष्ण का जन्म अपने मामा कंस का अंत करने के लिए हुआ था और इस भांजे का जन्म मामा से एक्स्टोर्सन वसूली करने के लिए हुआ है ! दोनों में फर्क बस इतना है की मामा कंस अत्याचारी था और यह भांजा सुधीर अत्याचारी है ! दरअसल शिक्षक दिगंबर झा अपहरण मामले का पटाछेप हो गया है और शिक्षक को सकुसल बरामद कर लिया गया है ! दिगंबर झा का अपहरण दूकान के घर लौटने के क्रम में कर लिया गया था ! दिगंबर झा अंधराठाढ़ी थाना क्षेत्र के पस्टन गांव के रहने वाले है ! अपहृत शिक्षक दिगंबर झा को मधुबनी पुलिस ने सुपौल जिला के डागमरा ओ पी के दियरा से सकुशल बरामद कर लिया है। इस काण्ड में संलिप्त 11 अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस को अपराधियों से एक पिस्टल,गोली,आठ मोबाईल फोन और साढ़े 12 हजार रुपये नगद बरामद हुए है !इस घटना में फर्जी सिम बिक्रेता सुरेश कुमार यादव घायल अपहृत दिगंबर झा का इलाज करने वाला झोला छाप डॉक्टर रामस्वरूप महतो को भी गिरफ्तार किया गया है ! अपहरण कांड का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार बरनवाल ने बताया कि इस काण्ड का मास्टर माइन्ड शिक्षक दिगंबर झा का भांजा पस्टन नवटोली निवासी  सुधीर कुमार मिश्र है। उसने लाइनर बन अपहरण काण्ड को अंजाम दिया। सुधीर मिश्र के साथ एक और पार्टनर अंधरामठ थाना क्षेंत्र के धीरेन्द्र कुमार चौधरी भी इस  साजिश रचने में शामिल है।  पुलिस ने दोनो साजिशकर्ता के साथ सुपौल जिला के चार और लोगों को गिरप्तार किया गया है।  जिस पर पुलिस टीम त्वरित कार्रवाई शुरु की। जानकारी के अनुसार समस्तीपुर कें गोरजा गांव से आकर अंधराठाढी के पस्टन नवटोली गांव में वास लेने वाले शिक्षक दिगम्बर झा के भगिना सुधीर झंझारपुर में  मोबाइल का दुकान चलाता था ,धीरेन्द्र कुमार चैधरी उसका बिसिनेस पार्टनर बताया जाता है। मोवाइल दुकान घाटे में चल रहा था इसलिए व्यवसाय को बढाने के लिए शिक्षक के अपहरण की साजिश रची ! इस टीम में ए एस पि निधि रानी ,डी एस पि उमेश्वर चौधरी ,पुलिस निरीक्षक सनोबर खान ,पुलिस निरीक्षक बी डी सिंह ,थानाध्यक्ष रामचंद्र मंडल ,पुलिस अवर निरीक्षक रंजीत कुमार ,पुलिस अवर निरीक्षक रामचंद्र चौपाल ,पुलिस अवर निरीक्षक रामचंद्र कामती ,एवं मधुसूदन पासवान टीम में शामिल थे !

No comments