Latest

वार्ड सदस्य और शिक्षक के तकरार ने गरीब के राहत को सड़ा दिया

नीरज कुमार सिंह ,पिंटू 
तकरार से काम बेकार होता है ! कई उदाहरण है एक दो मैं बता देता हु बिहार के मुखिया और मुख्यमंत्री के तकरार से बिहार के विकास का पैसा बैंक का विकास कर रहा है ! केजरीवाल और केंद्र की सरकार के तकरार से नगर निगम का कचरा कई बार सड़कों पर आ चुका है ! अब कई उदाहरण है कितना लिखू अब सुबह से साम तक आप उदहारण पढ़ने के लिए बेबसाइट पर तो बैठे नहीं है ! तो चलिए ताजा तकरार की बाते मैं बता दू ! इस तकरार ने गरीब का खाना को सड़ा दिया है !
मधुबनी मीडिया की खबरों के लिए पेज Like करें.

दरअसल एक वार्ड सदश्य एवं शिक्षक के तकरार ने बाढ़ राहत के छह सौ पैकेट को नष्ट कर दिया है ! मामला मधेपुर प्रखंड के खोर मदनपुर गांव का है ! यहाँ किसी बात को लेकर स्थानीय शिक्षक और वार्ड सदस्य के बिच विवाद हो गया था जिसके कारण जब बाढ़ सामग्री वितरण के लिए गांव में पहुंचा तो वार्ड सदस्य ने राहत सामग्री को अपने वार्ड में वितरण करने से मना कर दिया और पिछले तीन महीनो से गांव के सामुदायिक भवन में यह सामग्री सड़ रहा है ! अब भला उस मास्टर साहेब और वार्ड साहेब को कौन समझाए की यह राहत उनका नहीं है और राहत यह तकरार आपका निजी है इसे अपने तक ही सिमित रखिये !

No comments