विधायक रामप्रीत पासवान ने शिक्षा मंत्री से की इस्तीफे की मांग


बिन्देश्वर चौधरी : अंधराठाढ़ी स्थानीय विधायक रामप्रीत पासवान ने शुक्रवार को अंधराठाढ़ी स्थित गिरी उच्च विद्यालय और प्रोजेक्ट कन्या विद्यालय का मुआयना किया. विधायक ने विद्यालयों में घंटो शिक्षक और छात्र छात्राओं से बातचीत कर पढ़ाई लिखाई, सुविधा असुविधा, साइकिल, छात्रवृत्ति योजना, शिक्षक छात्रों की उपस्थिति अनुपस्थिति और शिक्षण संस्कृति में हो रहे बदलाव आदि बिंदुओं पर जानकारी ली. 

मुआयना के बाद स्थानीय कोशी निरीक्षण भवन में उन्होंने प्रेस कांफ्रेस में को बताया कि बिहार के शिक्षा मंत्री से शिक्षा महकमा नही संभल रहा है. उन्हें अपने पद से इस्तीफ़ा दे देना चाहिए. उनका कहना था कि वे भी एक शिक्षक रहे हैं, मगर वर्तमान समय मे शिक्षकों का मनोबल बहुत गिरा हुआ है. शिक्षा अधिकारियों की निष्क्रियता, वेतन विसंगति और शिक्षकों से गैर शिक्षण कार्य लेना शिक्षालयों में गिरते माहौल का प्रमुख कारक है. इसमें व्यवस्था का आधा दोष तो आधा दोष अविभावक और शिक्षकों का भी है. निजी स्कूलों और कोचिंग सेंटरों में बढ़ती भीड़ सरकारी शिक्षा व्यवस्था को मुँह चिढ़ा रही है. सरकार को बिना देरी किये नई शिक्षा नीति लागू करना चाहिए. आगामी अगस्त महीने में क्षेत्र के हर विद्यालय का दौरा कर शिक्षक अभिभावक और छात्रों की एक मीटिंग करने की उनकी योजना है.

क्षेत्र की प्रमुख समस्या के बारे में बोलते हुए उन्होंने बताया कि रेफरल अस्पताल भवन, बिजली, सड़क आदि सभी बुनियादी समस्याओं पर उनका ध्यान है. आम लोगों की समस्याओं को जाती धर्म और दलगत चश्मे से देखना उनकी आदत नही है. हर समस्या का पता चलते ही वे उसके निदान में जुट जाते हैं. मौके पर जिला महामंत्री महेंद्र पासवान, पूर्व मुखिया कुमार कमलनाथ, वरिष्ठ भाजपाई डॉ चंद्रशेखर झा, जैनेन्द्र झा बबलू, सशक्त नेता रामचंद्र यादव, मंडल महामंत्री देवचन्द्र चौधरी, रंजन झा, संजय सिंह, युवा तुर्क शैलेंद्र मिश्र, कुमार जी झा, मनोज साफी, दिवाकर सिंह, कृष्णमुरारी झा, विजय राम, हरीमुकुंद झा, कृष्णदेव पासवान, वीर यादव सहित दर्ज़नो भाजपा कार्यकर्ता मौजुद थे.

Comments

Popular posts from this blog

मजनू मुक्त समाज बनाने में जुटा है हरलाखी विधानसभा : सामाजिक

कबड्डी टूर्नामेन्ट का होगा आयोजन :खेल

लव सेक्स और धोखा, भाजपा विधायक के भाई पर आरोप