Latest

बेतरतीब लगे वाहनों के कारण पैदल चलना भी हुआ मुश्किल


बिन्देश्वर चौधरी : अंधराठाढी प्रखंड का मुख्य बाजार मे लगने वाले जाम की समस्या ने लोगो को भारी परेशानी में डाल दिया है. आये दिन होने वाली इस जाम की समस्या अब विकराल रूप ले चुकी है. बाजार में सड़कों पर बेतरतीब लगे वाहन व अतिक्रमण कर दुकान लगाने की वजह से सडक पर जगह ही नही बची है. हालात ऐसी है की फुटपाथ पर चलना भी अब लोहे के चने चबाने जैसा हो गया है.

क्या है कारण 
अबैध कब्जा और अतिक्रमण के कारण अंधरा बाजार का मुख्य सडक पगडंडी बन के रह जाता है. बाजार आते ही जाम देखकर लोगों की बेचैनी बढ जाती है. लोगो की परेशानी तब और बढ जाती है जब हर ओर से गाड़ियों का जमावडा लग जाता है. लोगों का दम घुटने लगता है और लम्बी दूरी तक गाडियो से सडक जाम हो जाता है. यहां हर रोज आसपास के गांवों से हजारो लोग जरुरत की सामानों की खरीददारी करने के लिए आवागमन करते है. साथ ही यहां स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, ग्रामीण बैंक, स्कूल, कॉलेज और अस्पताल भी है. इस कारण ही अहले सुबह से लेकर देर रात तक लोगो का आना जाना लगा रहता है। बाजार के रामफल चौधरी चौक पर बेतरतीब खड़े वाहनों ने तो नाको दम कर रखा है. सप्ताह में दो दिन सोमवार और शुक्रवार को अंधराठाढी में हाट भी लगता है. हटिया के दिन सडक पर मंडी लगाने से 100 मीटर की सफर तय करने में भी  घंटो लग जाता है. सड़क के दोनों किनारे अतिक्रमण कर दूकान सजी रहती है. रोगी वाहन, अग्निशामक आदि जरूरी वाहनों को आने जाने में घंटो मशक्कत करना पड़ता है. रामफल चौधरी स्मृति द्वार से लेकर रेफरल अस्पताल तक ऑटो का अघोषित अड्डा बना हुआ है. जिससे हमेशा जाम का आलम बना ही रहता है. जाम के कारण अस्पताल आने वाले रोगियो को भी आये दिन परेशानी का सामना करना पडता है.

क्या कहते है लोग
संजय चौधरी, सतनारायण शर्मा, विक्रम मंडल, मुकेश नारायण चौधरी आदि ने बताया की यहां हमेशा ही जाम लगा रहता है. प्रशासन को तत्काल ही दिन में बड़ी गाड़ियों के बाजार में प्रवेश पर रोक लगाकर और अतिक्रमण पर नकेल कस यहां के लोगों को जाम की समस्या से निजात दिलाना चाहिये.

क्या कहते है अधिकारी
मालूम हो कि माननीय उच्च न्यायालय के आदेशानुसार सड़क को अतिक्रमण मुक्त रखना अंचल अधिकारी और थानाध्यक्ष का दायित्व है. मगर प्रशासन की लापरवाही ने मामले को और विेेकराल बना दिया है. अंचलाधिकारी विष्णु देव सिंह मैंने अभी अभी अपना पद संभाला है. मामले की समुचित जानकारी लेकर कार्यवाही की जायेगी.

No comments