मानव संसांधन विकास मंत्री के खिलाफ मैथिल उतरे सड़को पर कई जगहों पर पुतला दहन किया गया


न्यूज़ डेस्क, पटना 
केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के विरुद्ध जिले के विभिन्न संगठन ने अपना गुस्सा जाहिर किया है ,साथ ही छात्र संगठन मिथिला स्टूडेंट यूनियन सहित मैथिल समाज रहिका ने केंद्रीय मंत्री का पुतला दहन किया है ! हम बता दे की केंद्रीय मंत्री प्रकाश जबड़ेकर ने दरभंगा सांसद कृति झा आजाद के द्धारा संसद में पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में मैथिलि को बोलचाल की भाषा करार दिया था ! जबकि मैथिलि भाषा का एक अपना इतिहास है और अष्ठम अनुसूची में शामिल है ! छात्र नेता रंधीर झा नेता ने कहा तत्कालीन प्रधानमन्त्री जवाहरलाल नेहरू ने मैथली को साहित्यिक भाषा माना था और आज मैथली भाषा अष्ठम अनुसूची में शामिल है ऐसे में केंद्रीय मंत्री का बयान शर्मनाक है जो उन्हें वापस लेना चाहिए ! छात्र नेता शशि अजय झा ने कहा केंद्र सरकार एक सम्बृद्ध साहित्यिक भाषा का अपमान कर रही है जबकि एनडीए के प्रधानमन्त्री अटल बिहारी बाजपेयी ने मैथिलि को अष्टम सूचि में शामिल किया था ! वही रहिका मैथिल समाज के संयोजक सीतलाम्बर झा ने कहा की केंद्रीय मंत्री का बयान अशोभनीय है जिन्हे वापस लेना चाहिए ! केंद्रीय मंत्री के इस भाषा ने विद्यापति, मंडन मिश्र सहित उन तमाम इतिहासकार का अपमान किया है जिनका हमलोग आज अनुसरण करते है ! 

Comments

Popular posts from this blog

कबड्डी टूर्नामेन्ट का होगा आयोजन :खेल

लव सेक्स और धोखा, भाजपा विधायक के भाई पर आरोप

मजनू मुक्त समाज बनाने में जुटा है हरलाखी विधानसभा : सामाजिक