छोटे पर्दे के हरी ओम बापजी और मधुबनी का लाल नरेंद्र झा अब इस दुनिया में नहीं रहे , बॉक्स ऑफिस पर मधुबनी की पहचान दिलाने वाले का हार्ड एटेक से मौत हो गया


न्यूज़ डेस्क ,पटना 
1992 में नरेंद्र झा ने टी भी सीरियल अम्रपाली से अपना करियर सुरु किया लेकिन रेस थ्री पूरा करने से पहले दुनिया को अलविदा कह दिया वे अब इस दुनिया में नहीं है ! मधुबनी जिला के कोइलख पंचायत में एक शिक्षक परिवार में जन्मे नरेंद्र छह भाई बहनो में सबसे छोटे थे ! नरेंद्र झा ने दरभंगा युनिभर्सिटी से बीएससी करने के बाद नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा से अभिनय  की बारीकियों को सीखा ! वे पहले आईएएस बनना चाहते थे लेकिन अभिनय के प्रेम ने उन्हें कलाकार बना दिया 

नरेंद्र झा ने वर्ष 2002 में दूरदर्शन के शो अम्रपाली से अपने करियर का शुरुआत किया जिसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा और कई बेहतरीन सीरियल में उन्होंने काम किया ! उन्होंने साउथ सिनेमा के साथ साथ हिंदी सिनेमा में भी अपना अभिनय का लोहा मनवाया ! वे शाहिद कपूर के साथ हैदर, सन्नी देयोल के साथ घायल वन्स अगेन ,ह्रितिक रौशन के साथ काबिल जैसे फिल्मो में काम कर चुके थे, नरेंद्र फिलहाल रेस थ्री में काम कर रहे थे ! पारिवारिक सूत्रों की माने तो नरेंद्र का मौत हार्ड एटेक से हुआ है ! उन्हें पहले भी एक बार हार्ड एटेक हो चुका था आज दुबारा मुंबई स्थित उनके निजी फ़ार्म हाउस पर सुबह पांच बजे हार्ड एटेक हुआ और अस्पताल पहुंचने से पहले उनका मौत हो गया 














नरेंद्र अपने पीछे दो छोटे छोटे बच्चे और पत्नी को छोड़ गए है ! नरेंद्र की मौत की खबर जैसे ही जिले में हुई लोगो में शोक की लहर दौर गया है ! कोइलख पंचायत के मुखिया शेखर झा ,समाजसेवी डॉ इंद्रमोहन झा ,समाजसेवी कप्पू सिंह ,छात्र नेता शशि अजय झा, प्रिय रंजन बी जे विकाश एवं राघवेंद्र रमन सहित कला जगत के कई कलाकार ने दुःख के इस घरी में अपना शोक सम्बेदना व्यक्त किया है !

Comments

Popular posts from this blog

कबड्डी टूर्नामेन्ट का होगा आयोजन :खेल

मजनू मुक्त समाज बनाने में जुटा है हरलाखी विधानसभा : सामाजिक

लव सेक्स और धोखा, भाजपा विधायक के भाई पर आरोप