Latest

रेल अधिकारी के लापरवाही से वर्ल्ड रेकॉर्ड बनाकर भी गिनीज बुक मे नाम दर्ज कराने से चुका मधुबनी स्टेशन

गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रेकॉड में नाम दर्ज कराने से चुका मधुबनी स्टेशन ! श्रमदान के बदौलत 7005 स्क्वायर फिट में मधुबनी पेंटिंग बनकर तैयार है ! परन्तु रेलवे अधिकारियों के लापरवाही के कारण मधुबनी के 182 कलाकारों को मायूसी हाथ लगी है ! ये कलाकार भारत के सबसे गंदे स्टेशन को सबसे स्वक्ष्य बनाने के लिए दिन रात एक कर इतने बड़े क्षेत्र में पेंटिंग तैयार किया जो गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रेकॉड की तुलना में काफी ज्यादा है परन्तु रेल अधिकारियों ने महज कुछ रूपये बचाने के लिए गिनीज बुक के लिए इस कार्यक्रम का रजिस्ट्रेशन नहीं कराया और जब आज जब मधुबनी स्टेशन पर 7005 स्क्वायर फिट में पेंटिंग बनकर तैयार हो गया है तो अधिकारी रजिस्ट्रेशन के प्रक्रिया शुरु करने का बात करते है ! अभी तक गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रेकॉड में 4566.1 स्क्वायर फिट में बना पेंटिंग सबसे अधिक क्षेत्र में बना पेंटिंग है !रेल drm रवींद्र जैन ने बताया की हम अब रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू कर दिये है .वहीं कलाकारों का कहना है की रेल अधिकारियों ने हमारे साथ धोखा दिया है .हमलोगों को बताया गया था की बढ़िया पेंटिंग बनाने वालों को पुरस्कृत किया जायेगा लेकिन तेरह दिन का तेरह सौ रुपये देकर ठग लिया .हर कोई मिथिला पेंटिंग कलाकारों को ठगने का काम कर रहे है .वहीं दसवीं मे पढ़ने वाली श्रुति ने बताया की मै दस दिन का पढ़ाई छोड़कर यहा अपने मम्मी के साथ पेंटिंग बनाने आयी हुई थी ताकि हम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रेकॉर्ड मे शामिल हो सके लेकिन आज काफी मायूसी हो रही .मुझे समझ नहीँ आ रहा है की मै जब स्कूल जाऊँगी तो अपने शिक्षक और दोस्तों को क्या कहूंगी .

No comments