Latest

मधुबनी एवं आसपास


दुर्गा पूजा और मुहर्रम का प्रशासनिक तैयारी पूरा :विधि व्यवस्था 
दुर्गा पूजा और मुहर्रम को देखते हुए मधुबनी जिलापदाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक एवं पुलिस अधीक्षक दीपक वरनवाल ने विधि व्यवस्था का जायजा लिया ! जिलापाधिकारी ने जिले के अधिकारियों को कई निर्देश जारी किये है उन्होंने बताया की हम साम्पदायिक जगहों को चिन्हित कर रहे है साथ ही इस बार हम कम्युनिटी इंगेजमेंट पर अधिक जोड़ दे रहे है ! वहीं जिला पुलिस अधीक्षक दीपक वरनवाल ने बताया की दुर्गा पूजा और मुहर्रम का जुलुस बिना लाइसेंस का नहीं निकाला जाएगा एवं हम कॉम्युनल केस में संलिप्त अभियुक्त पर भी नजर बनाये हुए है !हमारे यहाँ दो कम्युनल केस है जिसमे पंडौल थाना में दर्ज मामला के सभी अभियुक्त गिरफ्तार हो चुके है एवं राजनगर थाना में दर्ज मामले में संलिप्त अभियुक्त को गिरफ्तार करने का प्रयास कर रहे है !

दरोगा पुलिस सेवा से हुआ बर्खास्त :कारवाई 
बिहार पुलिस के 2009 बैच के दारोगा महाकांत सिंह को पुलिस सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है  । इस मामले को एसपी दीपक बरनवाल ने पुष्टि कर दी है ! विभागीय जांच में रिश्वत लेने का आरोप सही साबित हुआ । रिपोर्ट सामने आने के बाद दरभंगा डीआइजी विनोद कुमार ने उन्हें बर्खास्त कर दिया है । मधुबनी एसपी दीपक बरनवाल ने डीआइजी को जांच रिपोर्ट भेजी थी जिसपर डीआईजी ने अपना मुहर लगा दिया है । फरवरी  2014 में निगरानी डीएसपी महाराजा कनिष्क कुमार ने एक व्यवसायी की शिकायत पर महाकांत सिंह को बतौर खुटौना थानेदार एक लाख रूपये रिश्वत लेते गिरफ्तार किया था !

खबर का असर :शिक्षा 
मधुबनी मीडिया के खबर का असर उस वक्त देखने को मिला जब हमने लिखा की बिहार सरकार के एक स्कूल में कब्रिस्तान में मध्याहन भोजन खिलाया जा रहा ! मधुबनी मीडिया में खबर आने के बाद डीएम ने अंधराठारी BDO एवं CO को तत्काल स्कूल को सिफ्ट करने का आदेश देते हुए कहा की कल से बच्चे कब्रिस्तान में मध्याहन भोजन नहीं खाएंगे ! साथ ही सरकारी फोन बंद रखने वाले जिला शिक्षा पदाधिकारी का फोन खुल गया और अंधराठारी के हरना स्कूल पहुंच कर स्कूल का मुआयना भी किया एवं ग्रामीणों को अस्वासन दिया की हम दो दिनों के अंदर स्कूल के भवन निर्माण कार्य प्रारम्भ कर देंगे ! हम बता दे की स्कूल के पास अलग से पांच कठ्ठा जमीन है ! लेकिन उस जमीन पर जाने के लिए सड़क अतिक्रमित है ,और अतिक्रमण के कारण किसी ने उस जमीन पर भवन निर्माण कार्य प्रारम्भ करने का जहमत नहीं उठाया है !इस स्कूल में 457 बच्चे है जिनके बैठने के लिए कोई जगह नहीं है ! मजबूरन बच्चे बगल के कब्रिस्तान में बैठकर भोजन करते है !

No comments