Latest

कभी दुकानों की सुंदरता बढ़ाते थे आज दरिया में बह रही है


यह शराब का दरिया है जिसमे पानी नहीं शराब बहता है ! आपने किस्से और कहानियों में दूध और घी के दरिया की कहानियाँ तो सुना होगा पर मधुबनी में यह सचमुच शराब का दरिया है ! पानी की तेज धारा की जगह शराब है जो एक छोटी सी नदी का रूप ले चुका है ! एक नजर में तो आपको लगेगा यह गन्दी नाला या वर्षा का पानी है पर हकीकत में यह शराब है जो जिला के एकलौते बेयर हाउस में पड़े हुए शराब के विनष्टीकरण से बना है !
साढ़े पांच करोड़ का दरिया 
मधुबनी जिले के महाराजगंज में स्थित इस बेयर हाउस में साढ़े पांच करोड़ के अंग्रेजी शराब रखे हुए थे जो अचनाक हुए शराब बंदी के कारण बेयर हाउस में पड़े रह गए ! सरकार ने पहले सिर्फ देशी शराब पर प्रतिबन्ध लगाए थे इस कारण से बेयर हाउस में अंग्रेजी शराब का स्टॉक काफी मात्रा में पड़ा था ! लेकिन सरकार ने अचानक अंग्रेजी शराब के बंदी का भी घोषणा कर दिया जिस कारण से इतनी बड़ी मात्रा में शराब बेयर हाउस में पड़े रह गए !न्यायलय के आदेश के कारण इन शराबो को बिनष्ट किया जा रहा है !

दो दिनों तक बना रहेगा दरिया 
बड़ी मात्रा में शराब होने के कारण रोड रौलर की मदत से इन शराबो को तोड़ा जा रहा है ! इन शराबो को पिछले तीन दिनों से नष्ट करने का कार्य किया जा रहा है ! लाखों लीटर शराब की बोतल टूटने की वजह से यहाँ शराब की नदी बन गया है ! फिलहाल यह नदी दो दिनों तक और बना रहने का उम्मीद है ! मधुबनी SP दीपक वरनवाल ने बताया की शराब बिनस्टीकरण का कार्य अभी दो दिनो तक बना रहेगा !
दुर्गन्ध से लोग परेशान
 
शराब का दरिया बनना भी अधिकारियों के लिए परेशानी का सबब बन चुका है ! वे ज़रा सा हटे तो शराबी इस नाला के शराब पर भी हमला ना कर दे इसलिए प्रशासन ने नाला की सुरक्षा का भी पुख्ता इंतजाम कर रखे है ! फिलहाल शराब के गंध से लोग इस रास्ते से कम गुजरने लगे है !
  

No comments