महिला अनसन का आज सातवा दिन लदनिया थाना प्रभारी पर लगाए गंभीर आरोप


आम आदमी यदि जमीन का विवाद लेकर थाना पहुँचता है तो सौ तरह के सवाल का सामना करना पड़ता है ! थाना प्रभारी के कई लीगल सवाल रहता है तो कई आम लोगो समझ से पड़े का सवाल रहता है ! कहते है यह जमीनी विवाद है इसमें सी ओ निर्णय लेते है सही है भाई ! उनके आदेश के बिना कोई कारवाई नहीं होगा है यह भी सही है ! मुझे जमीन का ट्रेनिंग नहीं दिया जाता है ! मेरे पास खतियान नहीं रहता है बगैरह-बगैरह और सायद उनका कहना सही भी है ! पर जब यही थाना प्रभारी अपने रौब से जमीनी विवाद को चुटकियों में हल कर देते है तो आम लोग असांवित तो होंगे ही ! यह बात दीगर है की यह उनके स्वेक्षा का निर्णय है और परिस्थितियों को देखते हुए उन्हें निर्णय लेने का हक़ है ! लेकिन कभी कभी उनके निर्णय पर ऊँगली तो उठ ही जाता है ! 

मधुबनी मीडिया की खबरों के लिए पेज Like करें.

ताजा मामला भी कुछ इसी तरह का है एक महिला ने लदनिया थाना प्रभारी पर गंभीर आरोप लगाया है महिला पिछले सात दिनों से जिला समाहरणालय के समक्ष अनसन पर बैठ गयी है ! दरअसल मामला लदनिया थाना क्षेत्र के महथा गांव का है और महिला अंजू देवी ने लदनिया थाना प्रभारी पर आरोप लगाया है की थाना प्रभारी उनके पडोसी को जमीन कब्जा करने में मदत किया है और पड़ोसी ने जमीन पर जबरन कब्जा कर मकान खड़ा कर दिया है ! अंजू देवी अपने जमीन से कब्जा हटाए जाने की मांग करते हुए पिछले पांच दिनों से अनसन कर रही है ! अंजू देवी के साथ उसका पूरा परिवार अनसन स्थल पर बैठा हुआ है ! फिलहाल तकनीकी कारणों से लदनीया थाना प्रभारी का पक्ष नहीँ मिल पाया है ! लेकिन मानवता रात के समय बिना लाइट बिना सुरक्षा के सड़क पर सोती है ! अंजू देवी एवं उसका पूरा परिवार सड़क किनारे में रहता है जो मानवता को कतयी मंजूर नहीँ होगा ! फिलहाल महिला से वार्ता के लिए कोई भी वरीय पदाधिकारी नहीं पहुंचे है !

Comments

Popular posts from this blog

कबड्डी टूर्नामेन्ट का होगा आयोजन :खेल

मजनू मुक्त समाज बनाने में जुटा है हरलाखी विधानसभा : सामाजिक

लव सेक्स और धोखा, भाजपा विधायक के भाई पर आरोप